Advertisement

Updated April 3rd, 2024 at 14:42 IST

ज्योतिषी के अनुसार नामांकन करना चाहते थे MP साहब, निकल गया समय तो धरने पर बैठे, CCTV जांच की मांग

सांसद राजमोहन उन्नीथन ने केरल के कासरगोड में जिला कलेक्टरेट में यह आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया कि उन्हें नामांकन दााखिल करने के लिए समय पर टोकन नहीं मिला।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Rupam Kumari
UDF candidate Rajmohan Unnithan
UDF candidate Rajmohan Unnithan | Image:Facebook- Rajmohan Unnithan
Advertisement

संयुक्त लोकतंत्रिक मोर्चा (यूडीएफ) के उम्मीदवार और मौजूदा सांसद राजमोहन उन्नीथन ने केरल के कासरगोड में जिला कलेक्टरेट में यह आरोप लगाते हुए प्रदर्शन किया कि उन्हें 2024 के लोकसभा चुनावों के नामांकन दााखिल करने के लिए पहले टोकन नहीं मिला।

उन्होंने कहा कि वे ज्योतिष में विश्वास रखते हैं और सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे के बीच शुभ समय पर नामांकन दाखिल करना चाहते थे। उन्नीथन ने आरोप लगाया कि वह कलेक्टर के निर्देशानुसार सुबह ठीक नौ बजे कलेक्ट्रेट पहुंचे, लेकिन पहला टोकन प्रतिद्वंद्वी वाम लोकतांत्रिक मोर्चा (एलडीएफ) उम्मीदवार एम वी बालाकृष्णन को दिया गया।

Advertisement

जिला प्राधिकरण के सूत्रों ने कहा कि बालाकृष्णन का प्रतिनिधि पहले आया था, इसलिए पहला टोकन उन्हें दिया गया। राजमोहन उन्नीथन ने संवादाताओं से कहा, "मैं ज्योतिषशास्त्र में दृढ़ विश्वास रखता हूं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार नामांकन दाखिल करने का शुभ समय सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे के बीच है। कलेक्टर ने मुझे सुबह नौ बजे तक आने के लिए कहा और मैं समय पर यहां आया था।"

उन्हें संदेह था कि निर्धारित समय पर पर्चा दाखिल करने की उनकी योजना को विफल करने के लिए कुछ प्रयास किए गए थे और वह यह देखने के लिए सीसीटीवी दृश्यों की जांच करना चाहते थे कि प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार के दावे सही थे या नहीं। उन्नीथन ने कलक्ट्रेट पर धरना भी दिया।

Advertisement

यह भी पढ़ें: चीन पर भड़के हिमंता, बोले- जैसे को तैसा नीति पर एक्ट कर सकते हैं हम

Advertisement

Published April 3rd, 2024 at 14:35 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo