Advertisement

Updated April 3rd, 2024 at 14:29 IST

'गाजियाबाद हारी हुई सीट थी, मैंने 1 लाख वोटों से दर्ज की थी जीत', राजनाथ सिंह ने याद किया बीता जमाना

लोकसभा चुनाव 2024 के चुनाव प्रचार के लिए हर पार्टी मैदान में है। देश के डिफेंस मिनिस्टर राजनाथ सिंह भी भाजपा उम्मीदवार की कैंपेनिंग के लिए गाजियाबाद पहुंचे।

Reported by: Kiran Rai
 Union Minsiter Rajnath Singh
Union Minsiter Rajnath Singh | Image:ANI
Advertisement

Rajnath Singh Election Campaign:  राजनाथ सिंह भाजपा उम्मीदवार अतुल गर्ग का प्रचार करने गाजियाबाद पहुंचे। समर्थकों, कार्यकर्ताओं और आम लोगों से मुखातिब हुए। अपना पुराना वक्त याद किया। उन्होंने उस दौर में कठिन परिस्थितियों के बावजूद लोगों से मिले भरपूर प्यार का जिक्र किया।

इस दौरान कैंडिडेट अतुल गर्ग ने भी केन्द्र सरकार के प्रयासों का जिक्र किया। भरोसे के साथ कहा कि विश्वास है कि जीत का सिलसिला जारी रहेगा।

Advertisement

क्या बोले राजनाथ?

राजनाथ सिंह ने कहा - मैं लंबे समय के बाद गाजियाबाद के धरती पर आया हूं और आज भी सभी ने मेरा उसी प्रकार से मेरा स्वागत किया है। जब मैं आया था गाजियाबाद चुनाव लड़ने के लिए तो मुझे कई लोगों ने समझाया की ये हारी हुई सीट है और आप पार्टी के राष्ट्र अध्यक्ष है आपको गाजियाबाद से नही लड़ना चाहिए, लेकिन मैं लड़ा और 1 लाख वोटों से विजय हासिल की। यह वही प्यार था मेरे लिए गाजियाबाद वासियों का। वही रिश्ता जो जीतने तक ही नहीं आज भी चल रहा है।

Advertisement

अतुल गर्ग को पूरा है विश्वास...

गाजियाबाद सीट से बीजेपी उम्मीदवार अतुल गर्ग ने भी अपनी बात रखी। जनसभा को संबोधित करते हुए कहा- मुझे विश्वास है की जीत का सिलसिला चलता रहेगा। उन्होंने  रूस और यूक्रेन युद्ध का नाम लिया। कहा- जब युद्ध चल रहा था उस दौरान हमारे यहां के बच्चे वहा पढ़ रहे थे और बच्चों के माता पिता ने पीएम से गुहार लगाई जिसके बाद पीएम ने यूक्रेन,रूस और अमेरिका के प्रेसिडेंट से बात की और साढ़े चार घंटे युद्ध रोक बच्चों को सफलता से निकला जा सका...यही नहीं कोरोना कल में पीएम ने स्वदेशी दवाई निर्माण के लिए कदम उठाया। देश में विकास दिख रहा है। सड़कें चौड़ी हो रही हैं। देश लगातार समृद्धि के तरफ बढ़ रहा है वह भी पीएम मोदी के उठाए गए कदमों की मदद से।

राजनाथ सिंह का अतुल गर्ग से कनेक्शन

साल-2009 में राजनाथ सिंह गाजियाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़े और जीते भी थे। उस वक्त उनके मुख्य चुनाव संयोजक अतुल गर्ग ही थे। राजनाथ सिंह के जीतने के कुछ दिन बाद ही उन्हें बीजेपी निवेशक प्रकोष्ठ का राष्ट्रीय संयोजक बना दिया गया।  साल-2012 में ही भाजपा ने अतुल गर्ग को गाजियाबाद शहर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाया था। हालांकि वे इस चुनाव में बसपा के सुरेश बंसल से हार गए थे। हार के बावजूद भाजपा ने अतुल पर भरोसा जमाया और 2017 में फिर से टिकट थमाया। अतुल गर्ग 2017 और 2022 दोनों के विधानसभा चुनाव में जीते। राजनाथ सिंह से करीबियों में से एक हैं। यही वजह है कि गर्ग के नामांकन की सभा में राजनाथ सिंह गाजियाबाद पहुंचे।

ये भी पढ़ें- 'दिल्ली में साथ पंजाब में अलग लड़ाई, चोर-चोर मौसेरे भाई',अनुराग ठाकुर ने इंडी पर उठाए सवाल
 

Advertisement

Published April 3rd, 2024 at 14:29 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo