Updated May 16th, 2024 at 21:58 IST

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 39 प्रतिशत करोड़पति उम्मीदवार, ADR की रिपोर्ट में खुलासा

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में चुनाव लड़ रहे लगभग 39 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं, जिनकी औसत संपत्ति 6.21 करोड़ रुपये है।

39 percent crorepati candidates in sixth phase - ADR report | Image:Republic
Advertisement

Lok Sabha Elections 6th Phase :  लोकसभा चुनाव के छठे चरण में चुनाव लड़ रहे लगभग 39 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं, जिनकी औसत संपत्ति 6.21 करोड़ रुपये है। चुनाव अधिकार संस्था ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (एडीआर) ने यह जानकारी दी।

एडीआर के विश्लेषण में कहा गया है कि 25 मई को छठे चरण में चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों में सबसे अधिक संपत्ति कुरुक्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उम्मीदवार नवीन जिंदल की है, जिन्होंने 1,241 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित की है, उनके बाद संतृप्त मिश्रा की 482 करोड़ रुपये और सुशील गुप्ता की 169 करोड़ रुपये है।

Advertisement

छठे चरण में 39 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति

लोकसभा चुनाव लड़ रहे 866 उम्मीदवारों में से 338 (39 प्रतिशत) करोड़पति हैं और लोकसभा चुनाव के छठे चरण में प्रति उम्मीदवार औसत संपत्ति 6.21 करोड़ रुपये की है।

Advertisement

किस पार्टी के कितने करोड़पति उम्मीदवार?

छठे चरण में बीजू जनता दल (बीजद) के सभी छह उम्मीदवार, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और जदयू के सभी चार-चार उम्मीदवार, भाजपा के 51 में से 48 (94 प्रतिशत), सपा के 12 में से 11 (92 प्रतिशत), कांग्रेस के 25 उम्मीदवारों में से 20 (80 प्रतिशत), आम आदमी पार्टी (आप) के पांच उम्मीदवारों में से चार (80 प्रतिशत) और अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (एआईटीसी) के नौ उम्मीदवारों में से सात (78 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने एक करोड़ रुपये से अधिक की संपत्तियां घोषित की है।

Advertisement

मास्टर रणधीर सिंह की संपत्ति 2 रुपए

सबसे कम संपत्ति वाले प्रत्याशियों में रोहतक से निर्दलीय उम्मीदवार मास्टर रणधीर सिंह शामिल हैं। सिंह ने अपनी संपत्ति दो रुपये घोषित की है। इसके बाद प्रतापगढ़ से एसयूसीआई(सी) के उम्मीदवार राम कुमार यादव ने 1686 रुपये की संपत्ति घोषित की है।लगभग 411 (47 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने हलफनामे में देनदारियों की घोषणा की है।

Advertisement

21 प्रतिशत उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले

एडीआर के अनुसार 866 उम्मीदवारों में से लगभग 180 (21 प्रतिशत) ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं और 866 में से 141 (16 प्रतिशत) ने अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं।

Advertisement

इसके अनुसार कम से कम 12 उम्मीदवारों ने ऐसे मामलों की घोषणा की है जिनमें उन्हें दोषी ठहराया गया है और छह उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ हत्या (आईपीसी की धारा -302) से संबंधित मामले घोषित किए हैं।

21 उम्मीदवारों के गंभीर आपराधित मामले

Advertisement

एडीआर ने कहा कि 21 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ हत्या के प्रयास (आईपीसी की धारा 307) से संबंधित मामले घोषित किए हैं और 24 उम्मीदवारों ने महिलाओं के खिलाफ अपराध से संबंधित मामले घोषित किए हैं। इसने कहा कि 16 उम्मीदवारों ने घृणा फैलाने वाले भाषण से संबंधित मामले अपने खिलाफ घोषित किए हैं।

इसे भी पढ़ें: अगर आपने झाड़ू का बटन दबाया तो मुझे जेल जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी : अरविंद केजरीवाल

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published May 16th, 2024 at 21:58 IST

Whatsapp logo