Advertisement

Updated April 4th, 2024 at 15:55 IST

अमेठी छुड़वाया अब राहुल को वायनाड में घुसकर घेर रहीं स्मृति ईरानी, पूछा- क्यों ले रहे PFI का सहारा?

राहुल गांधी ने वायनाड से चुनाव में लड़ रहे हैं। यहां उनकी BJP नेता के सुरेंद्रन से टक्कर है। अब सुरेंद्रन को मजबूत करने स्मृति ईरानी वायनाड पहुंची हैं।

Reported by: Dalchand Kumar
Smriti Irani vs Rahul Gandhi
बीजेपी नेता स्मृति ईरानी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी | Image:PTI/File
Advertisement

Smriti Irani vs Rahul Gandhi: राहुल गांधी अमेठी लौटेंगे या यहां से गांधी परिवार (Gandhi Family) का नाता टूटेगा? इस पर भले सस्पेंस है, लेकिन 2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election) में उन्हें करारी शिकस्त देने वाली केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी वायनाड (Wayanad) तक पहुंच गई है। अभी केरल की वायनाड लोकसभा सीट से राहुल गांधी चुनाव लड़ रहे हैं, ये फैसला पहले ही हो चुका है। हालांकि बीजेपी की दिग्गज नेता स्मृति ईरानी अमेठी (Amethi) के बाहर भी वायनाड में राहुल गांधी को ललकार रही हैं।

कांग्रेस पार्टी राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को दोबारा से वायनाड सीट से चुनाव लड़ा रही है। राहुल ने वायनाड लोकसभा सीट से नामांकन भी दाखिल कर दिया है। यहां कांग्रेस नेता को बीजेपी नेता के सुरेंद्रन टक्कर दे रहे हैं। अब सुरेंद्रन को मजबूत करने के लिए स्मृति ईरानी ने वायनाड में डेरा डाला है। सुरेंद्रन ने गुरुवार को वायनाड लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल किया। उसके पहले बीजेपी (BJP) की स्टार प्रचारकों में शामिल स्मृति ईरानी ने गुरुवार को वायनाड में के सुरेंद्रन के लिए रोड शो किया।

Advertisement

स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोला

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर जोरदार हमला बोला और आरोप लगाया कि वो प्रतिबंधित संगठन पीएफआई (PFI) के नेताओं से समर्थन ले रहे हैं। बीजेपी नेता ईरानी कहती हैं- 'मैं यहां वायनाड आकर हैरान हूं कि पीएफआई जैसे आतंकी संगठन के प्रतिबंध के बाद भी राहुल गांधी पीएफआई के राजनीतिक नेतृत्व (SDPI) से समर्थन ले रहे हैं। हरेक उम्मीदवार को अपना नामांकन दाखिल करने से पहले भारतीय संविधान के प्रति निष्ठा की शपथ लेनी होगी। राहुल गांधी ने भारतीय संविधान के प्रति अपनी शपथ को गलत ठहराया, जब उन्होंने अपने चुनावों के लिए पीएफआई के राजनीतिक नेतृत्व से समर्थन लिया।'

Advertisement

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने कहां तक की पढ़ाई, कितनी है संपत्ति? जानकर चौंक जाएंगे आप

कांग्रेस को मुस्लिम लीग से समर्थन पर भड़की ईरानी

ईरानी ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी की रैली में मुस्लिम लीग (Muslim League) के झंडे छिपाए गए थे, जो दर्शाता है कि राहुल को मुस्लिम लीग का समर्थन मिल रहा है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी कहती हैं- 'कांग्रेस की नामांकन रैली में मुस्लिम लीग के झंडे छिपा दिए गए, जिससे पता चलता है कि या तो राहुल गांधी को मुस्लिम लीग से समर्थन मिलने पर शर्म आती है या जब वो उत्तर भारत का दौरा करेंगे और मंदिरों में जाएंगे, तो वो मुस्लिम लीग के साथ अपने संबंधों को छिपा नहीं पाएंगे।'

अमेठी के बाद वायनाड में राहुल के लिए चुनौती बनीं ईरानी

फिलहाल वायनाड में स्मृति ईरानी के अभियान को राहुल गांधी के लिए चुनौती के रूप में देखा जा रहा है, क्योंकि बीजेपी की इस स्टार ने राहुल को अमेठी से हराया है, जो 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का गढ़ हुआ करता था। भारतीय जनता पार्टी ने स्मृति ईरानी को तीसरी बार 2024 लोकसभा चुनाव के लिए अमेठी से उम्मीदवार घोषित किया है। 2019 के चुनाव में स्मृति ईरानी ने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को अमेठी सीट पर लगभग 55000 मतों के अंतर से हराया था। कांग्रेस की ओर से इस सीट पर अब तक कोई उम्मीदवार नहीं घोषित किया गया है। राहुल गांधी के भी अमेठी से चुनाव लड़ने पर भी संशय बरकरार है। अमेठी में पांचवें चरण के लिए 20 मई को मतदान होना है।

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में भूचाल...दो दिनों में इन 3 दिग्गजों ने दिया झटका, उबर पाएगी पार्टी?

Advertisement

Published April 4th, 2024 at 14:53 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo