Advertisement

Updated April 4th, 2024 at 17:27 IST

Stock Market: लोकसभा चुनाव से पहले सेंसेक्स की आसमानी उड़ान, जानिए किन शेयरों में रहा जोरदार उछाल

बीएसई का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स 350.81 अंक यानी 0.47 प्रतिशत बढ़कर 74,227.63 के अपने अबतक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ।

Reported by: Digital Desk
Edited by: Deepak Gupta
Stock Market BSE
Stock Market BSE | Image:PTI
Advertisement

Stock Market: नीतिगत ब्याज दर में स्थिरता और कंपनियों के मजबूत तिमाही प्रदर्शन की उम्मीदों के बीच घरेलू शेयर बाजार के मानक सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी बृहस्पतिवार को आधा प्रतिशत की बढ़त के साथ रिकॉर्ड नई ऊंचाई पर पहुंच गए। शेयर बाजारों में इस तेजी के पीछे सूचना प्रौद्योगिकी, टिकाऊ उपभोक्ता सामान और वित्तीय शेयरों में खरीदारी की अहम भूमिका रही।

बीएसई का 30 शेयरों वाला सूचकांक सेंसेक्स 350.81 अंक यानी 0.47 प्रतिशत बढ़कर 74,227.63 के अपने अबतक के उच्चतम स्तर पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान सेंसेक्स 74,501.73 के उच्चतम और 73,485.12 के निचले स्तर पर भी रहा।

Advertisement

नए शिखर पहुंचा निफ्टी

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का सूचकांक निफ्टी भी 80 अंक यानी 0.36 प्रतिशत की बढ़त के साथ 22,514.65 के अपने नए शिखर पर पहुंच गया। निफ्टी में शामिल 50 शेयरों में से 31 बढ़त के साथ बंद हुए। इस तेजी के साथ बाजार पिछले दो सत्र की गिरावट से उबरने में सफल रहा।

Advertisement

सेंसेक्स का पिछला उच्चतम स्तर सात मार्च को 74,119.39 अंक दर्ज किया गया था। वहीं निफ्टी का पिछला रिकॉर्ड 22,493.55 अंक का था।

बढ़त के साथ बंद हुए 20 शेयर

Advertisement

सेंसेक्स के समूह में शामिल 20 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए। इनमें एचडीएफसी बैंक, टाइटन, टेक महिंद्रा, एशियन पेंट्स, टीसीएस, मारुति, कोटक महिंद्रा बैंक और बजाज फिनसर्व भी शामिल हैं।

गिरावट के साथ बंद हुए ये शेयर

Advertisement

इसके उलट एसबीआई, भारती एयरटेल, जेएसडब्ल्यू स्टील, पावरग्रिड, आईटीसी और रिलायंस के शेयर गिरावट के साथ बंद हुए।
बीएसई लार्जकैप सूचकांक में 0.34 प्रतिशत और स्मॉलकैप में 0.54 प्रतिशत की बढ़त रही जबकि मिडकैप 0.11 प्रतिशत के नुकसान में रहा।

घरेलू बाजारों ने नीतिगत दर रेपो पर शुक्रवार को आने वाले फैसले के पहले एक सीमित दायरे में सकारात्मक कारोबार किया। रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समिति की बैठक में रेपो दर पर चर्चा चल रही है।

Advertisement

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘व्यापक बाजार ने मजबूत व्यावसायिक स्थितियों को दर्शाते हुए समग्र पीएमआई आंकड़ों के आधार पर अच्छे तिमाही नतीजों और निर्यात की उम्मीद में बैंकों जैसे चुनिंदा क्षेत्रों में जुझारूपन दिखाया है।’’

विदेशी बाजारों का रहा कैसा हाल?

Advertisement

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की बढ़त में रहे जबकि हांगकांग और शंघाई के बाजार छुट्टी के कारण बंद रहे।

यूरोपीय बाजार सकारात्मक दायरे में कारोबार कर रहे थे। अमेरिकी बाजार बुधवार के सत्र में मिले-जुले रुख के साथ बंद हुए थे। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.36 प्रतिशत चढ़कर 88.67 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया। शेयर बाजार के आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने बुधवार को 2,213.56 करोड़ रुपये मूल्य के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की।

Advertisement

इसे भी पढ़ें : गौरव वल्लभ के पार्टी छोड़ने पर प्रमोद कृष्णम का कांग्रेस पर तीखा हमला, कहा- सनातन का श्राप ले डूबेगा

Advertisement

(Note: इस भाषा कॉपी में हेडलाइन के अलावा कोई बदलाव नहीं किया गया है)

Published April 4th, 2024 at 17:27 IST

आपकी आवाज. अब डायरेक्ट.

अपने विचार हमें भेजें, हम उन्हें प्रकाशित करेंगे। यह खंड मॉडरेट किया गया है।

Advertisement

न्यूज़रूम से लेटेस्ट

Advertisement
Advertisement
Advertisement
Whatsapp logo